होली में फट गई चोली

मुझे त्योहारों में बहुत मज़ा आता है, खास तौर से होली में.

पर कुछ चीजे त्योहारों में गडबड है. जैसे मेरे मायके में मेरी मम्मी और उनसे भी बढ़के छोटी बहने.
कह रही थी कि मैं अपनी पहली होली मायके में मनाऊँ. वैसे मेरी बहनों की असली दिलचस्पी तो अपने जीजा जी के साथ होली खेलने में थी. परन्तु मेरे ससुराल के लोग कह रहे थे कि बहु की पहली होली ससुराल में ही होनी चाहिये.

मैं बड़ी दुविधा में थी. पर त्योहारों में गडबड से कई बार परेशानियां सुलझ भी जाती है. और ऐसा हुआ भी, इस बार होली २ दिन पड़ी. (दरअसल हिन्दुओं के सारे त्यौहार हिन्दी महीनों (जैसे- चैत्र, वैशाख….आदि) से मनाए जाते है और हिन्दी महीने तारीख से नही बल्कि तिथियों से चलते है. कई बार एक ही दिन और एक ही तारीख को दो तिथि मिल जाती है या एक ही तिथि दो दिनों तक रहती है. इस बार भी कुछ ऐसा ही हुआ.)

मेरी ससुराल में 14 मार्च को और

मायके में 15 को होली मनाई जानी थी.

मेरे मायके में जबर्दस्त होली होती है और वो भी दो दिन. तय हुआ कि मेरे घर से कोई आ के मुझे होली वाले दिन ले जाए और ‘ये’ होली के अगले दिन सुबह पहुँच जायेंगे. मेरे मायके में तो मेरी दो छोटी बहनों नमिता और श्वेता के सिवाय कोई था नहीं. मम्मी ने फिर ये प्लान बनाया कि मेरा ममेरा भाई, विक्रम, जो 11वी में पढ़ता था, वही होली के एक दिन पहले आ के ले जायेगा.

“विक्रम की चुन्नी” मेरी ननद सपना ने छेड़ा.

वैसे बात उसकी सही थी. वह बहुत कोमल, खूब गोरा, लड़कियों की तरह शर्मीला, बस यु समझ लीजिए कि जब से वो class 8 में पहुँचा, लड़के उसके पीछे पड़े रहते थे. यूं कहिये कि ‘नमकीन’ और highschool में उसकी टाइटिल थी, “है शुक्र कि तू है लड़का”, पर मैंने भी सपना को जवाब दिया, “अरे आएगा तो खोल के देख लेना, क्या है अंदर हिम्मत हो तो…”

“हाँ, पता चल जायेगा कि नुन्नी है या लंड(penis)” मेरी जेठानी ने मेरा साथ दिया.

“अरे भाभी उसका तो मुंगफली जैसा होगा, उससे क्या होगा हमारा..???” मेरी बड़ी ननद ने चिढ़ाया.

“अरे मूंगफली है या केला..??? ये तो पकड़ोगी तो पता चलेगा. पर मुझे अच्छी तरह मालूम है कि तुम लोगों ने मुझे ले जाने के लिये उसे बुलाने की शर्त इसीलिये रखी है कि तुम लोग उससे मज़ा लेना चाहती हो.” हँसते हुए मैं बोली.

“भाभी उससे मज़ा तो लोग लेना चाहते है, पर हम या कोई और ये तो होली में ही पता चलेगा. आपको अब तक तो पता चल ही गया होगा कि यहाँ के लोग पिछवाड़े के कितने शौक़ीन होते है..???” मेरी बड़ी ननद रानू जो शादी-शुदा थी, खूब मुह-फट्ट थी और खुल के मजाक करती थी.

बात उसकी सही थी.

मैं Flash-Back में चली गई…………………..

सुहागरात के 4-5 दिन के अंदर ही, मेरे पिछवाड़े की शुरुआत तो उन्होंने दो दिन के अंदर ही कर दी थी.
मुझे अब तक याद है, उस दिन मैंने सलवार-सूट पहन रखा था, जो थोड़ा Tight था और मेरे मम्मे(boobs) और नितम्ब खूब उभर के दिख रहे थे. रानू ने मेरे चूतडों पे चिकौटी काटते चिढ़ाया, “भाभी लगता है आपके पिछवाड़े में काफी खुजली मच रही है….? आज आपकी गाण्ड बचने वाली नहीं है, अगर आपको इन कपड़ो में भैया ने देख लिया तो…”
“अरे तो डरती हूँ क्या तुम्हारे भैया से..??? जब से आई हूँ लगातार तो चालू रहते है, बाकि और कुछ तो अब बचा नहीं…… ये भी कब तक बचेगी..???” चूतडों को मटका के मैंने जवाब दिया.
और तब तक ‘वो’ भी आ गए. उन्होंने एक हाथ से खूब कस के मेरे चूतडों को दबोच लिया और उनकी एक उंगली मेरे कसी सलवार में गाण्ड के Crack में घुस गई. उनसे बचने के लिये मैं रजाई में घुस गई अपनी सास के बगल में…..
‘वह’ भी रजाई में मेरी बगल में घुस के बैठ गए और अपना एक हाथ मेरे कंधे पे रख दिया. ‘उनकी’ बगल में मेरी जेठानी और छोटी ननद बैठी थी.
छेड़-छाड़ सिर्फ कोई ‘उनकी’ जागीर तो थी नहीं..??? सासू के बगल में मैं थोड़ा safe भी महसूस कर रही थी और रजाई के अंदर हाथ भी थोड़ा bold हो जाता है. मैंने पजामे के ऊपर हाथ रखा तो उनका खुटा पूरी तरह खड़ा था. मैंने शरारत से उसे हल्के से दबा दिया और उनकी ओर मुस्कुरा के देखा.
बेचारे…. चाह के भी….. अब मैंने और Bold हो के हाथ उनके पजामे में डाल के सुपाड़े को खोल दिया. पूरी तरह फूला और गरम था. उसे सहलाते-सहलाते मैंने अपने लंबे नाख़ून से उनके pi hole को छेड़ दिया. जोश में आके उन्होंने मेरे कबूतर(Boobs) कस के दबा दिए.
उनके चेहरे से उत्तेजना साफ़ झलक रही थी. वह उठ के बगल के कमरे में चले गए जो मेरी छोटी ननद का Study Room था. बड़ी मुश्किल से मेरी ननद और जेठानी ने अपनी मुस्कान दबायी.
“जाइये-जाइये भाभी, अभी आपका बुलावा आ रहा होगा.” शैतानी से मेरी छोटी ननद बोली.

(TBC)…


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


desi choot ka paniचूत की रानी का पानीहिनदी चुदाई कहानी ऑgay chudai kahanisexy hindi marathi storiesbahan ki chudai hindiअमिर औरत कि चुदाई कहानिया हिनदि मेantarvastra story in hindi hotchudai chutholi sexilund aur chut ka milan17 saal ki ladkichoti behan ki gand marimaa beta ki chudai ki kahani hindi memosi ko choda kahaniमादरचोद चुड़ै स्टोरीshadishuda aurat ki chudaimom ka pair dabate chut dekha xnxx tvbhikharan ko chodaअतरवाशना चाची किxvideochoot chatnawww desi sex story comdidi chudai ki kahaniBabita ki chut me sandeep ke land xxxEk pujarin ki hawas chudai ki kahanibihar ki chutchudai ki mastisex cut ki khani Hindisex chudai story in hindihot choot ki chudaichachi ki moti gaandwww bhabhiki chudai comsandar chudaichudai ke best tarikesexh khani babajika lad hidiऔरतों की चुदाई कहानीforigen ki gand ki sexy storiesaunty ki chut maridesi sex haryanaXxxii ki khani new 2019Hindixxx sax sillpak kaheni.cominhindisexi chut lundmaa ki chudai apne bete sesexy chut ki hindi kahanibest sex kahanisas ki hukumat sex kahani atarwasanababita bhabhi porngand marne ki storyhindi sex stories in hindi onlybhabhi ki mast chudai ki kahaniyastory chodasome sexy stories in hindisaheli ko chodalatest chut storyBhai ne ki sari hasrate puri kr chudayi kiमॉ व बेटी की चुदाई 10ईंच लम्बा लण्ड स कहानियॉholi chudkkr mausiindian moti chootsexy story hindi maibhabi ki chodai ki kahanibahan ne bahkaya chudayi storyhindi sexy storisehot aunty ko chodapyasi jawani moviehindi hostel sexholi par bhai bhan chudai store2019bahan ki chudai ki kahani hindi meshuhagraat per gand mari behanak kahanimaa beta khet xossiphindichutpornअन्तर्वासना भाभी को खेत में छोड़ेchachi ki chudai kikachi chootAntervisnaa audorajasthani saxychut land ki kahaniya in hindidesi chudai hindi moviekajol ki chudaibus me chinaal sex storydidi ki gand chudainayi kahani chudai kinokrani ne land hilate dekha xxx videoxxxvideohidedesistory of aunty ki chudaipunjabi hot sex storiesIndian sex story tipin bhabhi and devar bhai bahan ma aantarvasana www suhagrat sex comपहली बार झाड़ियों में चुदाईmeri kunwari chut ki chudaishivita ke chute ma chandom15 salke bhaise chut ki khujli mitai hindi khaniyabur chodnebaap ne chudai kisexy saveta bhi bhi saee walechachi ko chodne ki kahani